मोदी का भाजपा सांसदों को संदेश, सेवा व समर्पण भाव से जनता के बीच करें काम

नयी दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के स्थापना दिवस से एक दिन पहले मंगलवार को पार्टी के सांसदों से आग्रह किया कि वह सेवा व समर्पण भाव के साथ जनता के बीच जाकर काम करें और केंद्र सरकार की महत्वपूर्ण तथा महत्वाकांक्षी योजनाओं का प्रचार प्रसार करें।

प्रधानमंत्री ने आंबेडकर अंतरराष्ट्रीय केंद्र में हुई भाजपा संसदीय दल की बैठक में यह बात कही। सूत्रों ने बताया कि प्रधानमंत्री ने सांसदों से स्थापना दिवस और सामाजिक न्याय पखवाड़े के तहत अपने-अपने संसदीय क्षेत्रों में प्रतिदिन एक बड़ा आयोजन करने और समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति तक सामाजिक न्याय सुनिश्चित करने को कहा।

ज्ञात हो कि भाजपा अपने स्थापना दिवस से लेकर 14 दिनों तक सामाजिक न्याय पखवाड़ा मना रही है। पार्टी ने इस दौरान कई कार्यक्रमों के आयोजन का फैसला किया है। प्रधानमंत्री मोदी पार्टी के स्थापना दिवस पर बुधवार को डिजिटल माध्यम से भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करने वाले हैं।

संसदीय दल की बैठक में पूर्वोत्तर में भाजपा के उदय का भी उल्लेख किया गया। पूर्वोत्तर के लगभग सभी राज्यों में या तो भाजपा या फिर उसके नेतृत्व वाले गठबंधन की सरकारें हैं। नगालैंड से भाजपा की पहली महिला सांसद एस फान्गनॉन कोन्यक भी आज संसदीय दल की बैठक में शामिल हुईं। वह राज्यसभा के लिए निर्विरोध चुनी गई हैं।

सूत्रों ने बताया कि भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने बैठक में राज्यसभा में भाजपा के सदस्यों की संख्या 100 तक पहुंचने का उल्लेख किया और इसे पार्टी की बड़ी उपलब्धि बताया। बैठक के बाद संवाददाताओं को सबोधित करते हुए संसदीय कार्यमंत्री प्र‘‘ाद जोशी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने सांसदों से पार्टी की ओर से आयोजित किए जाने वाले सभी कार्यक्रमों में सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित करने को कहा।

जोशी के मुताबिक मोदी ने कहा, ‘‘उन्हें (सांसदों को) जनसेवा के लिए खुद को सर्मिपत कर देना चाहिए।’’ पार्टी के सांसद और अन्य सदस्य सात अप्रैल को ‘‘आयुष्मान भारत’’ और जन औषधि केंद्रों के प्रभावों को रेखांकित करेंगे। आठ और नौ अप्रैल को होने वाले कार्यक्रमों के केंद्र में गरीबों के लिए आवास योजना और हर घर नल से जल योजना रहेगी।

पार्टी नौ अप्रैल को ज्योतिबा फुले और 14 अप्रैल को बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर की जयंती भी व्यापक स्तर पर मनाने की तैयारी कर रही है। जोशी ने कहा कि भाजपा सांसद 12 अप्रैल को कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम के महत्व को रेखांकित करेंगे। प्रधानमंत्री ने सांसदों से कहा कि उस दिन वे स्कूलों का दौरा करें और छात्रों को टीका लेने के लिए प्रोत्साहित करें।

इस दौरान पार्टी के सांसद व कार्यकर्ता लाभार्थियों से मिलेंगे और उनके अनुभव भी साझा करेंगे। प्रधानमंत्री ने सांसदों को यह सुझाव भी दिया कि आजादी का अमृत महोत्सव के तहत वह गांवों में छोटे-छोटे तालाब बनवाएं। उन्होंने सांसदों से आकांक्षी जिलों का दौरा करके वहां विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन करने को भी कहा।

बैठक में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा सहित कई वरिष्ठ नेता और पार्टी के सांसद मौजूद थे। संसद सत्र के दौरान सामान्यत: प्रत्येक मंगलवार को भाजपा संसदीय दल की बैठक होती है। मौजूदा बजट सत्र के दौरान संसदीय दल की यह आखिरी बैठक थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button