गृह मंत्री शाह रविवार को 10 मुख्यमंत्रियों के साथ नक्सल प्रभावित इलाकों की स्थिति की समीक्षा करेंगे

नयी दिल्ली. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह रविवार को 10 प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों के साथ नक्सल प्रभावित इलाकों की सुरक्षा स्थिति की समीक्षा करेंगे. अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. दिन भर भौतिक रूप से होने वाली इस बैठक के लिए छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र, झारखंड, ओडिशा, बिहार, पश्चिम बंगाल, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, मध्य प्रदेश और केरल के मुख्यमंत्री को आमंत्रित किया गया है. गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने यहां बताया कि बैठक में गृह मंत्री 10 नक्सल प्रभावित प्रदेशों में सुरक्षा स्थिति और माओवादियों के खिलाफ जारी अभियानों की मुख्यमंत्रियों के साथ समीक्षा करेंगे.

गृह मंत्री शाह नक्सल प्रभावित इलाकों में सड़कों, पुलों, स्कूलों, स्वास्थ्य केंद्रों के निर्माण जैसे मौजूदा विकास कार्यों की समीक्षा भी कर सकते हैं. गृह मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार देश में माओवादी ंिहसा में खासी कमी आयी है और अब यह समस्या करीब 45 जिलों में व्याप्त है.

हालांकि, देश के कुल 90 जिलों को माओवादी प्रभावित माना जाता है और वे मंत्रालय की सुरक्षा संबंधी व्यय योजना के तहत आते हैं. नक्सली ंिहसा को वामपंथी उग्रवाद भी कहा जाता है. 2019 में 61 जिलों से नक्सली ंिहसा की रिपोर्ट आयी थी जबकि 2020 में यह संख्या घटकर 45 हो गयी. आंकड़ों के अनुसार 2015 से 2020 के बीच वामपंथी उग्रवाद प्रभावित क्षेत्रों में विभिन्न घटनाओं में करीब 380 सुरक्षाकर्मी, 1,000 आम नागरिक और 900 नक्सली मारे गए. इस दौरान करीब 4,200 नक्सलियों ने आत्मसमर्पण कर दिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close