पूर्वोत्तर अब भारत की मुख्यधारा का हिस्सा: भाजपा

नयी दिल्ली. असम, नगालैंड और मणिपुर के ‘‘अधिकांश हिस्सों’’ से सशस्त्र बल विशेष अधिकार अधिनियम (आफस्पा) को हटाने संबंधी केंद्र के ‘‘ऐतिहासिक’’ फैसले का हवाला देते हुए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने शनिवार को कहा कि पूर्वोत्तर क्षेत्र में शांति बहाल हुई है और यह क्षेत्र अब ‘मुख्यधारा’ का हिस्सा बन गया है.केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू, जो अरुणाचल प्रदेश से लोकसभा सांसद हैं, ने कहा कि इस क्षेत्र में विभिन्न चुनौतियों से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विकास और विद्रोही समूहों के साथ बातचीत के दोतरफा दृष्टिकोण का फायदा मिला है.

उन्होंने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि एक ‘‘रंगीन, सुंदर और शांतिपूर्ण’’ पूर्वोत्तर देशभर के लोगों की प्रतीक्षा कर रहा है. उन्होंने इस क्षेत्र की यात्रा और यहां निवेश की अपील की. उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने इस क्षेत्र को ‘‘तबाह’’ कर दिया था. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने बड़ा दिल दिखाया जिसकी इस क्षेत्र को जरूरत थी.

मंत्री ने कहा कि क्षेत्र के लोग चाहते थे कि सरकार उन तक पहुंचे. रिजिजू ने कहा कि क्षेत्र से आफस्पा को पूरी तरह से हटाने संबंधी प्रधानमंत्री मोदी के सपने को भी साकार किया जाएगा. आफस्पा सुरक्षा बलों को अभियान चलाने और बिना वारंट के किसी को भी गिरफ्तार करने की शक्ति प्रदान करता है और अगर सुरक्षा बलों की गोली से किसी की मौत हो जाए तो भी यह कानून उन्हें गिरफ्तारी और अभियोजन से संरक्षण प्रदान करता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button