फिल्म को करमुक्त करने की मांग पर बोले केजरीवाल, “‘द कश्मीर फाइल्स’ को यूट्यूब पर अपलोड कर दें”

नयी दिल्ली.  मुख्यमंत्री अरंिवद केजरीवाल ने बृहस्पतिवार को कहा कि ‘द कश्मीर फाइल्स’ को दिल्ली में कर मुक्त (टैक्स फ्री) करने की मांग कर रहे भाजपा विधायकों को फिल्म को यूट्यूब पर ‘अपलोड’ कर इसे सबके लिए नि:शुल्क कर देना चाहिए.
विधानसभा में अपने संबोधन के दौरान केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर राजनीतिक लाभ के लिए फिल्म का इस्तेमाल करने का भी आरोप लगाया.

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने पलटवार करते हुए कहा कि केजरीवाल ने इस मुद्दे पर अपनी टिप्पणी से राजनीतिक शालीनता की सारी हदें पार कर दी हैं. आतंकवाद के कारण कश्मीर घाटी से कश्मीरी पंडितों के पलायन पर आधारित फिल्म ने राजनीतिक बहस छेड़ दी है. भाजपा शासित राज्यों ने या तो कर रियायतों की पेशकश की है, या सरकारी कर्मचारियों को इसे देखने के लिए विशेष अवकाश दिया है. हालांकि, विपक्ष ने फिल्म को एकतरफा और बेहद ंिहसक करार दिया है.

केजरीवाल ने कहा कि उपराज्यपाल अनिल बैजल के बुधवार को दिल्ली विधानसभा में अभिभाषण के दौरान भाजपा नेताओं ने ‘द कश्मीर फाइल्स’ को कर मुक्त करने की मांग की. केजरीवाल ने विधानसभा में कहा, ‘‘ वे (भाजपा) मांग कर रहे हैं कि दिल्ली में फिल्म को कर मुक्त किया जाए.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मेरा मानना है कि इसे यूट्यूब पर अपलोड कर दें, फिल्म सब के लिए नि:शुल्क हो जाएगी और हर कोई इसे देख पाएगा.’’ केजरीवाल ने प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि आठ साल तक देश पर शासन करने के बावजूद उन्हें राजनीतिक लाभ के लिए फिल्म का सहारा लेना पड़ रहा है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘द कश्मीर फाइल्स’ पर प्रतिक्रिया का जिक्र करते हुए कहा था कि फिल्म ने उस “पूरे परिवेश” को झकझोर कर रख दिया है, जो अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का हिमायती होने का दावा तो करता है, लेकिन यह नहीं चाहता है कि सच्चाई बताई जाए.
आम आदमी पार्टी (आप) के प्रमुख केजरीवाल ने आरोप लगाया कि भाजपा का पूरा तंत्र देश भर में फिल्म के पोस्टर चिपकाने में व्यस्त है.

उन्होंने विधानसभा में कहा, ‘‘ कुछ लोग कश्मीरी पंडितों के नाम पर करोड़ों कमा रहे हैं और आप (भाजपा) फिल्म के पोस्टर चिपकाते रहे हैं.’’ केजरीवाल ने यह भी कहा, ‘‘ हिटलर तक ने अपने साथियों को नौकरियां दी थी. उन्होंने (मोदी ने) आपको क्या दिया? केजरीवाल ने आपके लिए काम किया है. अगर आपके परिवार में कोई बीमार है तो केजरीवाल आपको दवाई देते हैं, मोदी नहीं. आंखें खोलो, भाजपा छोड़ो और आप में शामिल हो जाओ.’’

भारतीय जनता पार्टी के विधायकों की मांग पर केजरीवाल की टिप्पणी पर भाजपा की दिल्ली इकाई के प्रमुख आदेश गुप्ता ने कहा कि केजरीवाल की प्रतिक्रिया ने कश्मीरी पंडितों के दर्द के प्रति उनकी असंवेदनशीलता को प्रर्दिशत किया है. उन्होंने कहा, ‘‘ ‘आप’ ने पहले कश्मीरी अलगाववादियों के जनमत संग्रह की मांग का समर्थन किया था. ऐसे में अब, ‘द कश्मीर फाइल्स’ फिल्म की उनसे (केजरीवाल से) सराहना की उम्मीद नहीं की जा सकती है.’’

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button