पाकिस्तान के अमेरिका के साथ ‘‘दीर्घ और उत्कृष्ट’’ रणनीतिक संबंध हैं, लेकिन देश ”गुटबाजी की राजनीति” में विश्वास नहीं करता

इस्लामाबाद. सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने शनिवार को कहा कि पाकिस्तान के अमेरिका के साथ ‘‘दीर्घ और उत्कृष्ट’’ रणनीतिक संबंध हैं लेकिन देश ”गुटबाजी की राजनीति” में विश्वास नहीं करता. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के अपने भागीदारों के साथ द्विपक्षीय संबंध अन्य देशों के साथ संबंधों पर निर्भर नहीं करते. बाजवा की टिप्पणी संकटग्रस्त प्रधानमंत्री इमरान खान के खिलाफ रविवार के अविश्वास प्रस्ताव पेश किये जाने से एक दिन पहले आई है. खान सीधे तौर पर अमेरिका का नाम लिए बिना दावा कर रहे हैं कि विपक्ष का अविश्वास प्रस्ताव ”विदेशी साजिश” का परिणाम है क्योंकि उनकी विदेश नीति स्वतंत्र है.

बाजवा इस्लामाबाद सुरक्षा वार्ता में बोल रहे थे. उन्होंने कहा, ”पाकिस्तान गुटबाजी की राजनीति में विश्वास नहीं करता और हमारे सहयोगियों के साथ हमारे द्विपक्षीय संबंध अन्य देशों के साथ संबंधों पर निर्भर नहीं हैं.”सेना प्रमुख ने कहा, ”पाकिस्तान के चीन के साथ घनिष्ठ रणनीतिक संबंध हैं जो चीन पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (सीपीईसी) के प्रति देश की प्रतिबद्धता से प्रर्दिशत होते हैं. हालांकि, साथ ही हमारे अमेरिका के साथ दीर्घ और उत्कृष्ट संबंध हैं जो हमारा सबसे बड़ा निर्यात बाजार बना हुआ है.”

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button