पाकिस्तानी रक्षा मंत्री ने दिए नवंबर से पहले आम चुनाव होने के संकेत

इस्लामाबाद. पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ ने संकेत दिया है कि आम चुनाव नवंबर से पहले हो सकते हैं. उनका यह बयान ऐसे वक्त आया है जब सत्तारूढ़ पीएमएल-एन के नेता राजनीतिक और आर्थिक मुद्दों पर पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के साथ महत्वपूर्ण विचार-विमर्श करने के लिए लंदन में हैं.

आसिफ ने बुधवार को प्रकाशित बीबीसी ऊर्दू को दिए एक साक्षात्कार में यह बात कही. उनसे मौजूदा सेनाध्यक्ष (सीओएएस) जनरल कमर जावेद बाजवा के इस साल नवंबर के अंत तक सेवानिवृत्त होने के बाद अगले सेना प्रमुख की नियुक्ति के बारे में पूछा गया था.
उन्होंने कहा, ‘‘संभव है कि नए सेना प्रमुख की नियुक्ति से पहले चुनाव हो जाएं… संभव है कि नवंबर से पहले कार्यवाहक सरकार की जगह नई सरकार आ जाए.’’ पाकिस्तान के संविधान के अनुसार, संसद भंग होने के बाद चुनाव कराने के लिए अधिकतम 90 दिनों की अवधि के लिए एक कार्यवाहक सरकार का गठन किया जाता है. मौजूदा नेशनल असेंबली का कार्यकाल अगले साल अगस्त में पूरा होगा.

यह पूछे जाने पर कि क्या पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज के नेतृत्व वाली गठबंधन सरकार मौजूदा सेना प्रमुख बाजवा की सेवा का विस्तार करेगी, आसिफ ने कहा कि बाजवा पहले ही घोषणा कर चुके हैं कि वह नहीं चाहते हैं उनका कार्यकाल बढ़ाया जाए. गौरतलब है कि बाजवा का कार्यकाल पहले ही 2019 में दूसरी बार तीन साल के लिये बढ़ाया गया था. उन्होंने कहा, ‘‘घोषणा (बाजवा की) अच्छी है क्योंकि इससे अटकलों की गुंजाइश खत्म हो जाएगी.’’ उन्होंने कहा कि बाजवा के पूर्ववर्ती जनरल राहील शरीफ ने प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से उनकी सेवा में विस्तार के लिए नहीं कहा था.

आसिफ ने पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की भी आलोचना करते हुए आरोप लगाया कि वह एक सेना प्रमुख नियुक्त करना चाहते हैं जो उनके राजनीतिक हितों की भी देखभाल करे और यह सुनिश्चित करे कि वह सत्ता में बने रहें. आसिफ की घोषणा कि चुनाव समय से पहले संभव हैं, ऐसे समय आई है जब पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान सरकार पर चुनाव कराने का दबाव बनाने के लिए बड़ी रैलियां कर रहे हैं. उन्होंने 20 मई के बाद इस्लामाबाद की ओर मार्च निकालने की भी धमकी दी है. इमरान खान को 9 अप्रैल को अविश्वास मत के माध्यम से पद से हटा दिया गया था.

रक्षा मंत्री ने यह टिप्पणी प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ सहित पीएमएल-एन के नेताओं की लंदन में पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के साथ बैठक के दौरान की है. कहा जा रहा है कि जिन मुद्दों पर चर्चा होगी उनमें जल्द चुनाव कराना भी शामिल है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button