डर के कारण राज ठाकरे ने स्थगित की अयोध्या यात्रा : अबू आजमी

मुंबई. समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता अबू आजÞमी ने दावा किया है कि महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) प्रमुख राज ठाकरे ने अपनी अयोध्या यात्रा डर के कारण स्थगित कर दी और वह बाद में भी उत्तर प्रदेश के उस शहर में नहीं जाएंगे क्योंकि उनमें हिम्मत नहीं है। महाराष्ट्र में समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष आजमी ने यह भी कहा कि ठाकरे ने अपनी एक सर्जरी की बात कही थी जो अयोध्या यात्रा को टालने का एक बहाना थी।

उन्होंने रविवार को पुणे में संवाददाताओं से कहा कि ठाकरे की पार्टी ने पूर्व में महाराष्ट्र में उत्तर भारतीयों के खिलाफ कथित रूप से ंिहसक विरोध प्रदर्शन किया था और ‘‘उनके द्वारा बोई गई नफरत का जवाब नफरत के साथ दिया जा रहा है।’’ उल्लेखनीय है कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद बृजभूषण शरण ंिसह ने मनसे प्रमुख राज ठाकरे की पांच जून को प्रस्तावित अयोध्या यात्रा का विरोध किया था।

राज ठाकरे ने पिछले हफ्ते घोषणा की थी कि उनकी अयोध्या यात्रा फिलहाल स्थगित कर दी गई है। रविवार को पुणे में एक रैली को संबोधित करते हुए, ठाकरे ने दावा किया कि उनकी प्रस्तावित अयोध्या यात्रा को लेकर हुए राजनीतिक घटनाक्रम उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं को कानूनी जाल में फंसाने के लिए एक चाल थी और इसीलिए उन्होंने अपनी यात्रा को स्थगित करने का फैसला किया।

मनसे प्रमुख ने यह भी खुलासा किया कि वह पैर और कमर में दर्द से पीड़ित हैं और एक जून को उनके कूल्हे की हड्डी की सर्जरी होनी है। ठाकरे पर निशाना साधते हुए आजमी ने कहा, ‘‘राज ठाकरे ंिचतित हैं, उनकी राजनीति खत्म हो गई है।’’ उन्होंने दावा किया कि मनसे नेता को (राजनीति में) कोई भी व्यक्ति महत्व नहीं देता।

मुंबई से सपा विधायक आजमी ने दावा किया, ‘‘वह नहीं जाएंगे। उनमें हिम्मत ही नहीं है।’’ उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की भूमि ंिहदुओं के लिए पवित्र है। उन्होंने ठाकरे से पूर्व में मनसे कार्यकर्ताओं द्वारा विरोध प्रदर्शन के माध्यम से उत्तर भारतीयों को ‘‘पीटने और अपमानित’’ करने के बारे में सवाल किया।

आजमी ने कहा ‘‘मुझे लगता है कि भगवान राम नहीं चाहते कि वह (अयोध्या) जाएं … सर्जरी और बाकी बातें तो बहाने हैं। उसके पास हिम्मत ही नहीं है। वह शत-प्रतिशत डरे हुए हैं। अगर आप नफरत बोते हैं तो आपको नफरत ही मिलेगी। इसलिए वह डरे हुए हैं।’’ उन्होंने कहा कि भाजपा की महाराष्ट्र इकाई कथित तौर पर ठाकरे के साथ है, लेकिन उत्तर प्रदेश में उसके एक सांसद (ंिसह) मनसे प्रमुख के अयोध्या दौरे का विरोध कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा को ठाकरे के संबंध में अपनी नीति तय करनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button