राजस्थान-गुजरात की ‘लू’ से तपा छग, एकाएक गर्मी बढ़ने से लोग हुए हलाकान

रायपुर.  मार्च माह में एकाएक पारा 40 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने से सभी हलाकान है. लोग सोच में पड़े हैं कि आखिर अचानक गर्मी कैसे बढ़ी? इस पर मौसम विभाग का कहना है कि निचले स्तर पर निर्मित एंटी साइक्लोन के कारण गुजरात और राजस्थान में इस माह ‘लू’ चलने की स्थिति निर्मित हुई है. दोनों राज्यों की ओर से गर्म हवा यानी उत्तर-पश्चिमी हवा के कारण छत्तीसगढ़ में तापमान तेजी से बढ़ा. राजस्थान और गुजरात की ‘लू’ ने छत्तीसगढ़ को तपाया है. प्रदेश में अचानक गर्मी बढ़ी है.

सुबह 10 बजे के बाद घर से बाहर निकलने में लोगों को कई बार सोचना पड़ रहा है. वहीं घरों में लोगों को गर्मी से राहत के लिए पंखा, कूलर और एसी सहारा लेना पड़ रहा है. उत्तर-पश्चिम हवा से गर्मी बढ़ी – मौसम विज्ञानी एच.पी. चंद्रा का कहना है कि गुजरात और राजस्थान में आंतरिक प्रभाव से निचले स्तर पर एंटी साइक्लोन का निर्माण हुआ.

इससे गर्मी ऊपरी आसमान में नहीं लौटी. दोनों राज्यों में एंटी साइक्लोन के कारण हीट वेव का निर्माण हुआ. मार्च माह दोनों राज्यों में लू की स्थिति रही. इस दौरान छत्तीसगढ़ में उत्तर-पश्चिम से गर्म हवा आई. इसी की वजह से छत्तीसगढ़ में एकाएक गर्मी बढ़ी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button