पूर्वी यूक्रेन में दो गांवों पर रूस ने किया कब्जा

कीव. रूसी सेना ने पूर्वी यू्क्रेन के क्षेत्र पर अपनी पकड़ विस्तारित करते हुए बृहस्पतिवार को दो गांवों पर कब्जा कर लिया. साथ ही, रूस एक प्रमुख राजमार्ग पर कब्जा कर रसद आपूर्ति को काटना और अग्रिम पंक्ति के कुछ यूक्रेनी सैनिकों की घेराबंदी करना चाहता है. ब्रिटिश और यूक्रेनी सैन्य प्रमुखों ने यह जानकारी दी.

ब्रिटेन के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि यूक्रेनी सैनिकों को लाइसीचांस्क शहर के नजदीक कुछ इलाकों से पीछे हटा लिया गया है, ताकि घेराबंदी की आशंका टाली जा सके. दरअसल, रूस ने वहां सैनिक भेजे हैं जो इलाके में गोलाबारी कर रहे हैं. यह यू्क्रेन के खिलाफ रूस के युद्ध में एक नवीनतम नया युद्ध क्षेत्र है. यूकेन की थल सेना के प्रमुख ने कहा कि रूसी सैनिकों ने लोसकुतीवका और राई-ओलेक्सांद्रीवका गांवों पर कब्जा कर लिया है तथा वे सीवेरोदोंत्स्क के बाहर सारोटाइन पर कब्जा करने की कोशिश कर रहे हैं.

गौरतलब है कि हफ्तों से रूसी सैनिक सीवेरोदोंत्स्क पर गोलाबारी और हवाई हमले कर रहे हैं जो लुहांस्क क्षेत्र का केंद्र है. यूक्रेनी सैनिक अजोत रासायनिक संयंत्र में छिपे हुए हैं जहां करीब 500 नागरिक शरण लिए हुए हैं. ब्रिटिश रक्षा मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को अपने खुफिया आकलन में इस बात का जिक्र किया कि रूसी सैनिकों के लाइसीचांस्क की ओर बढ़ने की संभावना है. बयान में कहा गया है, ‘‘कुछ यूक्रेनी सैन्य टुकड़ियों को हटा लिया गया है ताकि उन्हें घेराबंदी से बचाया जा सके. ’’

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button