जिनेवा में संरा कार्यालय में तैनात रूसी राजनयिक ने यूक्रेन युद्ध को लेकर दिया इस्तीफा

दावोस. जिनेवा स्थित संयुक्त राष्ट्र कार्यालय में तैनात वरिष्ठ रूसी राजनयिक ने यूक्रेन युद्ध को लेकर अपने इस्तीफे की घोषणा की है.
रूसी राजनयिक बोरिस बोंडारेव (41) ने कहा कि उन्होंने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन द्वारा यूक्रेन में ”आक्रामक युद्ध छेड़ने” के खिलाफ विदेशी सहयोगियों को पत्र भेजने से पहले अपना इस्तीफा सौंप दिया है. रूसी मिशन को सोमवार सुबह प्राप्त हुए एक पत्र में बोरिस ने अपने इस्तीफे की पुष्टि की है.

यूक्रेन पर रूसी हमले की तारीख का जिक्र करते हुए बोरिस ने लिखा, ”बतौर राजनयिक मेरे 20 वर्ष लंबे करियर में मैंने विदेश नीति में कई बदलाव देखे, लेकिन मुझे इस साल 24 फरवरी से पहले कभी अपने देश को लेकर इतनी शर्म महसूस नहीं हुई.” उन्होंने कहा, ”पुतिन द्वारा यूक्रेन के खिलाफ शुरू की गई जंग या यूं कहिये कि पूरे पश्चिम के खिलाफ छेड़ा गया युद्ध, ना केवल यूक्रेनी लोगों बल्कि रूस के लोगों के खिलाफ भी एक गंभीर अपराध है.” गौरतलब है कि रूस ने इस साल 24 फरवरी को यूक्रेन पर हमले की शुरुआत की थी.
फोन पर संपर्क करने पर रूसी राजनयिक बोरिस ने अपने इस्तीफे की पुष्टि करते हुए कहा कि उन्होंने राजदूत गेन्नेडी गैटिलोव को अपना त्यागपत्र सौंप दिया है.

बोरिस ने कहा, ” अब मेरी सरकार जो कर रही है वो असहनीय है. सरकारी कर्मचारी होने के नाते, इसे लेकर मेरी भी एक तरह की जवाबदेही होगी और मैं इसके लिए तैयार नहीं हूं.” उन्होंने कहा कि इस्तीफा देने के बाद उन्हें अब तक रूसी अधिकारियों की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है. हालांकि, मिशन के प्रवक्ता से इस बाबत संपर्क करने का प्रयास किया गया, लेकिन उनकी प्रतिक्रिया नहीं मिल सकी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button