जब भागवत बंगाल में हों तो उन्हें मिठाई भेजें, लेकिन सुनिश्चित करें कि कोई दंगा नहीं हो: ममता

खड़गपुर (पश्चिम बंगाल). पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत की राज्य की आगामी यात्रा पर कटाक्ष करते हुए मंगलवार को पुलिस से कहा कि वह उन्हें मिठाई और फल पेश करके उनका स्वागत करें और सुनिश्चित करें कि उनके चार दिवसीय प्रवास के दौरान कोई ‘दंगा’ नहीं हो। भागवत मंगलवार से केशियरी में शुरू हो रहे आरएसएस के प्रशिक्षण शिविर में मौजूद रहेंगे.यह प्रशिक्षण शिविर तीन सप्ताह तक चलेगा.बनर्जी ने यहां समीक्षा बैठक में अपने अधिकारियों से कहा, ‘‘आरएसएस प्रधान (प्रमुख) के 17 मई से 20 मई तक केशियरी में रहने का उद्देश्य क्या है?… आप उन्हें प्रशासन की ओर से मिठाई और फल भेज सकते हैं.

उन्हें एहसास होने दें कि हम अपने मेहमानों के साथ कितने सौहार्दपूर्ण हैं।’’ बनर्जी ने यहां प्रशासनिक बैठक के दौरान केशियरी थाने के प्रभारी निरीक्षक से कहा, ‘‘उन्हें उचित सुरक्षा मुहैया कराएं और यह भी सुनिश्चित करें कि कोई दंगा नहीं हो।’ आरएसएस के वरिष्ठ पदाधिकारी देबाशीष चौधरी ने हालांकि यह कहते हुए पलटवार किया कि ‘‘यह दिलचस्प है कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी हमारी सामाजिक-सांस्कृतिक गतिविधियों के लिए उत्सुक हो गई हैं… साथ ही, हम उनसे इस्लामिक संगठनों द्वारा चलाए जा रहे तब्लीगी जमात शिविरों में जाने का आग्रह करते हैं।’’ उन्होंने कहा कि यह अच्छा होगा यदि बनर्जी अपने लिए आरएसएस के शिविर को देखें.उन्होंने दावा किया कि युवाओं को वहां शैक्षिक और सांस्कृतिक गतिविधियों के साथ-साथ शारीरिक प्रशिक्षण दिया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button