सिद्धू ने अनुशासनात्मक कार्रवाई की सिफारिश पर तोड़ी चुप्पी, कहा- वक्त बताएगा

चंडीगढ़. कांग्रेस नेता और पंजाब इकाई के पूर्व अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने अपने खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की मांग किये जाने के कुछ दिन बाद बुधवार को कहा कि वह जवाब देने के लिये सही समय का इंतजार कर रहे हैं. गौरतलब है कि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) के पंजाब मामलों के प्रभारी हरीश चौधरी ने सिद्धू के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की मांग की थी.

हालांकि सिद्धू ने अपने ट्वीट में कही गई बातों का कोई संदर्भ तो नहीं दिया, लेकिन इसे पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेजी गई चौधरी की चिट्ठी पर प्रतिक्रिया के तौर पर देखा जा रहा है. सोनिया को लिखे पत्र में चौधरी ने ”खुद को पार्टी से बड़ा समझने के लिये” सिद्धू के खिलाफ कार्रवाई की सिफारिश की थी.

सिद्धू ने ट्वीट किया, ”अपने ख़लिाफ बातें मैं अक्सर खामोशी से सुनता हूँ . . . . .जवाब देने का हक , मैंने वक्त को दे रखा है . . ..
सोमवार को सामने आए 23 अप्रैल के पत्र में चौधरी ने पंजाब कांग्रेस प्रमुख अमरिंदर सिंह राजा वारिंग की तरफ से सिद्धू की ”वर्तमान गतिविधियों” के बारे में एक विस्तृत नोट भी भेजा था. चौधरी ने पत्र में उल्लेख किया था कि सिद्धू ने पिछली कांग्रेस सरकार की लगातार आलोचना की जबकि उनसे ऐसा नहीं करने के लिए कहा गया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button