कश्मीरी पंडितों की सुरक्षा के लिये पूर्व सैनिकों के विशेष बल का गठन किया जाए: स्वामी

श्रीनगर. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता एवं राज्यसभा सदस्य सुब्रमण्यम स्वामी ने शनिवार को कहा कि कश्मीरी पंडितों की सुरक्षा के लिये पूर्व सैनिकों के एक विशेष बल का गठन किया जाना चाहिये ताकि वे बिना किसी डर के घाटी में जाकर रह सकें. स्वामी ने ‘जम्मू-कश्मीर पीस फोरम’ की ओर से आयोजित ‘नवरेह मिलन’ कार्यक्रम से इतर पत्रकारों से कहा कि कश्मीरी पंडित 1990 के दशक में एक भयानक अनुभव से गुजरे हैं और वे लौटने के बाद वैसी स्थिति का सामना नहीं कर सकते.

भाजपा नेता ने कहा, ‘‘इसलिए, हम उन्हें केवल तभी लौटने के लिए कह सकते हैं जब स्थिति अच्छी हो. मेरा सुझाव है कि एक लाख सैनिक, जो अब सेवानिवृत्त हो चुके हैं, उन्हें उनके परिवार के साथ पांच साल तक कश्मीर में रहने के लिए कहा जाए. इसके लिए उन्हें वेतन आदि दिया जाए.” उन्होंने कहा, ‘‘क्योंकि जब कश्मीरी पंडित लौटें, तो उनकी सुरक्षा के लिए एक विशेष बल होना चाहिये. उन्होंने (पंडितों ने) एक नरसंहार का सामना किया है और हालात ऐसे नहीं होने चाहिये कि उन्हें फिर से इसका सामना करना पड़े.”

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button