उप्र विधानमंडल का सत्र 23 मई से राज्यपाल के अभिभाषण के साथ शुरू होगा

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानमंडल का सत्र 23 मई को राज्यपाल के अभिभाषण के साथ शुरू होगा और इसी सत्र में वित्तीय वर्ष 2022—2023 के आय व्ययक (बजट) का प्रस्तुतीकरण होगा. शनिवार को विधानसभा के विशेष सचिव बृज भूषण दुबे ने इसकी अनंतिम अधिसूचना जारी की. उत्तर प्रदेश की 18वीं विधानसभा में योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में गठित दूसरी बार भारतीय जनता पार्टी की सरकार का पहला सत्र 23 मई से शुरू होगा और मंगलवार को मंत्रिपरिषद ने विधानमंडल सत्र के संचालन के लिए मंजूरी दी थी.

विशेष सचिव की ओर से जारी अधिसूचना के मुताबिक 23 मई, सोमवार को राज्य विधान मंडल (विधान सभा और विधान परिषद) के एक साथ समवेत दोनों सदनों के समक्ष राज्यपाल का अभिभाषण होगा और इस दिन राज्यपाल के अभिभाषण को पढकर सुनाये जाने के साथ ही अध्यादेशों, अधिसूचनाओं और विधेयकों को पटल पर रखा जाएगा. इसमें कहा गया है कि 24 मई, मंगलवार और 25 मई, बुधवार को राज्यपाल के अभिभाषण (धन्यवाद प्रस्ताव) पर चर्चा होगी.
दुबे के मुताबिक 26 मई, बृहस्पतिवार को पूर्वाह्न वित्तीय वर्ष 2022—2023 के आय व्ययक (बजट) का प्रस्तुतीकरण होगा और राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा होगी. अन्य विधायी कार्य भी निपटाए जाएंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button