अप्रैल के तीसरे हफ्ते से हर विस क्षेत्र में दौरा

रायपुर. चुनावी मिशन से पहले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल फील्ड में उतरकर धरातल पर योजनाओं का  क्रियान्वयन देखेंगे. सभी विधानसभा क्षेत्रों में अलग-अलग ब्लॉकों में जाकर वे कामकाज की टोह लेने के साथ स्थानीय स्तर पर परफार्मेंस के साथ आम लोगों का फीडबैक भी लेंगे. माना जा रहा है कि खैरागढ़ उपचुनाव के तत्काल बाद मुख्यमंत्री का दौरा कार्यक्रम तय हो जाएगा. प्रस्तावित दौरे पर प्रशासनिक तैयारियां भी शुरू हो गई है.

मुख्यमंत्री ने आला अफसरों के साथ दौरे को लेकर मंत्रणा भी की है. मुख्यमंत्री प्रदेश के सभी विधानसभा क्षेत्रों में पहुंचकर योजनाओं के जमीनी स्तर पर  क्रियान्वयन के साथ आम लोगों से रूबरू होंगे. लगभग दो माह तक लगातार वे फील्ड में ही रहकर टोह
लेंगे. प्रशासनिक स्तर पर उनके दो माह का मैराथन कार्यक्रम तैयार हो रहा है. उन्होंने पहले ही कई मौकों पर स्पष्ट कर दिया था कि सभी 90 विधानसभा क्षेत्रों में जाकर कामकाज की समीक्षा करेंगे.

इस दौरान वे आम लोगों से मिलकर सवाल-जवाब भी करेंगे. सूत्रों के मुताबिक फील्ड में योजनाओं के क्रियान्वयन में खामियों पर भी नजर रहेगी. कामकाज में लापरवाही की स्थिति में जवाबदेह अफसरों पर कार्रवाई की गाज भी गिर सकती है. वहीं कमजोर परफार्मेंस
वाले क्षेत्रों में संबंधित अफसरों को जवाब भी देना पड़ सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button