‘टू प्लस टू’ वार्ता भारत-अमेरिका वैश्विक रणनीतिक साझेदारी के महत्व को रेखांकित करेगी : अमेरिका

वाशिंगटन. अमेरिका ने बृहस्पतिवार को कहा कि भारत के साथ ‘टू प्लस टू’ वार्ता अंतरराष्ट्रीय शांति एवं सुरक्षा सुनिश्चित करने में दोनों देशों के बीच व्यापक और वैश्विक रणनीतिक साझेदारी के महत्व की पुन:पुष्टि करेगी.

अमेरिकी विदेश विभाग प्रवक्ता के कार्यालय ने कहा कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और विदेश मंत्री एस जयशंकर अमेरिकी रक्षा मंत्री लॉयड आॅस्टिन और विदेश मंत्री एंटनीब्लिंकन के साथ 11 अप्रैल को वाशिंगटन में इस वार्ता के चौथे सत्र के तहत बातचीत करेंगे. प्रवक्ता ने कहा कि दोनों देशों के बीच राजनयिक संबंधों की स्थापना का यह 75वां वर्ष है.

उन्होंने कहा, ‘‘यह मुक्त, खुला और समृद्ध हिंद-प्रशांत के प्रति हमारी साझा प्रतिबद्धता की पुन: पुष्टि करेगा.’’ नयी दिल्ली में विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि यह वार्ता अहम क्षेत्रीय एवं वैश्विक घटनाक्रमों पर विचारों के आदान-प्रदान के लिए एक अवसर प्रदान करेगी.

उन्होंने कहा कि यूक्रेन में उभरती स्थिति पर भी इसमें चर्चा होने की उम्मीद है. प्रवक्ता ने बताया कि जयशंकर 11 से 12 अप्रैल तक अमेरिका की यात्रा करेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button