सुकमा जिले में दो इनामी नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण

रायपुर. छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित सुकमा जिले में शुक्रवार को दो इनामी नक्सलियों ने सुरक्षाबलों के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। सुकमा जिले के पुलिस अधीक्षक सुनील शर्मा ने आज बताया कि जिले में चल रहे पूना नर्कोम (नई सुबह, नई शुरुआत) अभियान से प्रभावित होकर तथा माओवाद की खोखली विचारधारा से निराश होकर दो नक्सलियों मड़कम जितेंद्र और गड़पा नागेश ने सुरक्षाबलों के सामने आत्मसमर्पण कर दिया।

शर्मा ने बताया कि उन्होंने बताया कि नक्सली मड़कम जितेंद्र प्लाटून नंबर 30 का सदस्य है और उस पर दो लाख रुपये का इनाम है, वहीं गड़पा नागेश जिले के बोड़केल पंचायत में दंडकारण्य अदिवासी किसान मंजदूर संगठन का अध्यक्ष है तथा उसके ऊपर एक लाख रुपये का इनाम है।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि नक्सलियों के खिलाफ पुलिस दल पर हमला, ग्रामीण की हत्या तथा बारूदी सुरंग लगाने समेत अन्य नक्सली घटनाओं में शामिल होने का आरोप है। शर्मा ने बताया कि आत्मसर्मिपत नक्सलियों को राज्य शासन के पुनर्वास नीति के तहत सहायता राशि और अन्य सुविधाएं प्रदान की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button