इस्पात संयंत्र पर यूक्रेन का हवाई हमला जारी : यूक्रेन की सेना ने बताया

कीव. यूक्रेन के सशस्त्र बलों के जनरल स्टाफ ने बृहस्पतिवार को कहा कि रूसी सेना ने मारियुपोल में अजोवस्तल इस्पात संयंत्र पर हवाई हमला जारी रखे हुए है और पूर्वी यूक्रेन के कस्बों पर अपनी बढ़त बना रही है. बमबारी तब शुरु हुई जब यूक्रेन ने युद्ध के दौरान बुरी तरह से घायल सैनिकों की सुरक्षित निकासी के बदले रूसी कैदियों को रिहा करने की पेशकश की, जो संयंत्र के अंदर फंसे हुए थे.

यूक्रेन की उप-प्रधान मंत्री इरीना वीरेशचुक ने कहा कि मारियुपोल में यूक्रेनी प्रतिरोध के अंतिम गढ़ में फंसे घायल सैनिकों को बाहर निकालने के लिए बातचीत चल रही थी. उन्होंने कहा कि अलग-अलग विकल्प थे, लेकिन ”उनमें से कोई भी आदर्श नहीं है.” मारियुपोल के महापौर के एक सलाहकार पेट्रो एंड्रीशचेंको ने कहा कि रूसी बलों ने शहर से बाहर निकलने के सभी मार्गों को अवरुद्ध कर दिया है. उन्होंने बताया कि कुछ मकान रहने के लिए उपयुक्त हैं, भोजन और पानी भी बहुत कम बचा है. उन्होंने कहा कि कुछ निवासी भोजन के बदले रूसी सेना को कब्जा करने में सहयोग कर रहे हैं.

वहीं, कीव इस दौरान पकड़े गए एक रूसी सैनिक के खिलाफ युद्ध अपराधों के पहले मुकदमे की तैयारी कर रहा है. सैनिक पर साइकिल सवार एक निहत्थे नागरिक को गोली मारने का आरोप है. युद्ध के दिन 78वें दिन अपने बयान में, यूक्रेन की सेना ने कहा कि रूसी सेना ने जापोरिजिया की दिशा में यूक्रेनी सैनिकों पर तोपखाने और ग्रेनेड लांचर भी दागे, जो मारियुपोल से भागने वाले नागरिकों की शरणस्थली रही है. सेना ने कहा कि रूसी बलों ने उत्तर पूर्व यूक्रेन में खार्किव शहर के उत्तर में यूक्रेनी इकाइयों पर तोपखाने दागे थे, और उत्तर में चेर्निहाइव और सूमी क्षेत्रों में रूसी हमलों की सूचना दी थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button