जब पंजाब में घर-घर राशन पहुंचाया जाएगा, तो दूसरे राज्यों के लोग भी इसकी मांग करेंगे: केजरीवाल

नयी दिल्ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरंिवद केजरीवाल ने सोमवार को कहा कि एक बार जब पंजाब सरकार लोगों के लिये ‘घर-घर राशन पहुंचाने’ की नीति लागू कर देगी, तो अन्य राज्यों के लोग भी इसकी ‘‘मांग’’ करने लगेंगे. उन्होंने डिजिटल संवाददाता सम्मेलन में यह भी आरोप लगाया कि भारतीय जतना पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार राष्ट्रीय राजधानी में इस नीति के कार्यान्वयन में ‘‘बाधा पहुंचाने’’ की कोशिश कर रही है.

उन्होंने कहा, ‘‘पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने आज एक बड़ी घोषणा की है कि लोगों के घर-घर राशन पहुंचाया जाएगा और इससे गरीबों को बहुत फायदा होगा. और मेरा मानना है कि इसका देशभर के लोगों पर प्रभाव होगा.’’ उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘हम दिल्ली में भी इसे लागू करने की पिछले चार साल से कोशिश कर रहे हैं. हमने इसके लिये सबकुछ कर लिया था, लेकिन केंद्र की भाजपा सरकार दिल्ली में इस नीति को लागू करने में बाधा डालने की कोशिश कर रही है,जो सही नहीं है.’’ इस बारे में भाजपा या केंद्र सरकार की ओर से तत्काल कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गई है.

केजरीवाल ने एक कहावत का हवाला देते हुए कहा कि ‘‘एक विचार जिसका समय आ गया है, उसे रोका नहीं जा सकता.’’ उन्होंने कहा, ‘‘इस विचार (घर-घर राशन पहुंचाने की योजना) का समय आ गया है. वे (केंद्र की भाजपा सरकार) इसे दिल्ली में लागू नहीं करने देंगे, लेकिन इसे पंजाब में लागू किया जाएगा और पूरा देश इसे देखेगा. पूरे देश के लोग इसकी मांग करेंगे. इसे पूरे देश में लागू किया जाएग.’’

उन्होंने अपने दावे के समर्थन में आम आदमी मोहल्ला क्लीनिक मॉडल का हवाला दिया और कहा कि ऐसे क्लीनिक देश के कई स्थानों पर स्थापित किए जा रहे हैं. केजरीवाल ने कहा कि जो दिल्ली में लागू किया जा रहा है, उसे कई अन्य राज्य अपने यहां लागू कर रहे हैं.
इससे पहले दिन में मान ने अपने राज्य में ‘घर-घर राशन वितरण योजना’ शुरू करने की घोषणा करते हुए कहा कि गरीबों को अब कतारों में खड़े होने की जरूरत नहीं होगी, क्योंकि अच्छी गुणवत्ता वाला राशन उनके घर तक पहुंचाया जाएगा. उन्होंने कहा, हालांकि यह योजना पात्र लाभार्थियों के लिए वैकल्पिक होगी.

डिजिटल संवाददाता सम्मेलन में केजरीवाल ने कहा कि आजादी के 75 साल के बाद भी लोग कतार में खड़े हो रहे हैं और मुश्किल का सामना कर व छुट्टी लेकर राशन लेने आ रहे हैं. केजरीवाल ने दावा किया कि गत कुछ वर्षों में ‘‘दिल्ली के काम को रोका’’ गया, जैसे पूर्व में मोहल्ला क्लीनिक को लागू करने की योजना, लेकिन इसके बावजूद उनकी सरकार ने इन्हें लागू किया.

उन्होंने आरोप लगाया कि सीसीटीवी कैमरा परियोजना भी केंद्र द्वारा रोकी गई और स्कूल और अस्पताल से जुड़े काम को भी रोका गया. केजरीवाल ने कहा, ‘‘पिछले 75 साल में जब इस देश के लोगों ने आगे बढ़ने और समृद्ध होने की ओर कदम बढ़ाने की कोशिश की तो उन्हें रोका गया लेकिन अब वे रुकेंगे नहीं. उन्होंने अपना मन बना लिया है.’’

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button